Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 2

ओ बसंती पवन पागल

October 24th, 2009 · 1 टिप्पणी · तकनिकी, फिल्म रिव्यु

“ओ बसंती पवन पागल ना जा रे ना जा” यह गीत है फिल्म जिस देश में गंगा बहती है से और फिल्माया गया है राज कपूर साहब और पद्मिनी पर । लता मंगेशकर और शंकर जयकिशन की जोडी नें जादू सा कर डाला है, प्राण फूंक दिये हैं ।

शुरु होते समय ही इस गाने में दो डायलोग हैं जो इस प्रकार हैं !

सुनों, आगे बडी गहरी और भयानक खाईयां है, तुम भटक जाओगे राजु, मत जाओ ।

पहाड वाले रास्तों पर वो लोग भटकते हैं जिनके मन की हर रात सूनी और अंधेरी होती हैं, कम्मो जी  |

राज कपूर का “जी” यहां भी प्रासंगिक है । पहले के जमाने में फिल्मों में विडियो एडिटिंग वगेरह में भी काफी खामियां रह जाती थी । नायिका के होठ अलग हिलते हैं और गाना अपनी रफ्तार में चलता है । पर सबसे खास बात इस गाने की यह है कि इसका संगीत, यह तो एसा है कि पत्थरदिल इंसान को भी रुला दे ।

गाने के अतं में नायिका पद्मिनी का विरह में गहने श्रंगार आदि फेंकना और फिर हीरो राजु का लौट कर आना, दुखी दुखी से गाने का सुखद मिलन ये यहां बडा विचित्र है । उधर अपने जमाने के मशहुर विलेन प्राण साहब बंदुक लिय पीछे पडे हैं । कुल मिला कर गाना में एसा जादू है कि कोई सुन कर भूल नहीं सकता ।

लिजीये विडियो देखिये आप भी यहां:

टैग्सः ··

एक टिप्पणी ↓

  • समीर लाल ’उड़न तश्तरी’ वाले

    इस गाने की शूटिंग हमारे यहाँ जबलपुर में भेड़ाघाट पर हुई थी. :)

अपनी टिप्पणी करें, आपकी टिप्पणीयां हमारे लिये बहुत ही महत्वपूर्ण हैं, आप हिन्दी या अंग्रेजी में अपनी टिप्पणी दे सकते हैं, साथ ही आप इस वेबसाईट पर और क्या क्या देखना चाहेंगे, अपने सुझाव हमें दें, धन्यवाद