Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 4

Entries Tagged as 'हास्य'

चंद हिन्दी चुटकुले जो शायद आप ने ना सुने हो

December 15th, 2009 · 96 Comments · हास्य

चंद हिन्दी चुटकुले जो शायद आप ने ना सुने हो लिजिये कुछ हिन्दी चुटकुले प्रस्तुत है जो शायद आपके चेहरे पर मुस्कान ला सके, इनमें से कुछ एसे हो सकते हैं, जो अब तक शायद आप ने नहीं सुने हो । हिन्दी चुटकुले प्रश्नः आप एक पतली दुबली सुखक्ड, लोमडी को हथिनि कैसे बना सकते […]

[Read more →]

Tags: ···

शादी के सपने

April 20th, 2009 · No Comments · उलझन, नई खबरें, हास्य

आमतौर पर हर व्यक्ती की शादी जीवन में एक बार ही होती है । लोग यह कहते हैं कि शादी एक एसा लड्डु है जो खाये वो पछताए और जो ना खाये वो भी पछताए । तो कुछ शादी को एक बर्बादी कहते हैं । कोई शादी के सपने देखता है, तो कोई शादी से […]

[Read more →]

Tags: ······

हार्न ओ. के. प्लीज

April 16th, 2008 · 3 Comments · आपबीती, उलझन, नई खबरें, हास्य

टाईटल पढ़ते ही चौंक गए ना ! आप सों रहे होगें की फिर से कोई ट्रक या बस से सबंधित बात होगी पर एसा नहीं है । अक्सर ट्रकों के पीछे लिखे ये टाईटल “हार्न ओ. के. प्लीज“ सभी को याद आते हैं । आज शाम को स्कूटर से चक्की तक जाते जाते कुछ घटना […]

[Read more →]

Tags: ······

मांगन ते मरना भला मत कोई मांगो भीख

April 10th, 2008 · 3 Comments · उलझन, हास्य

लगता है कि भीख मांगना भारत में सबसे आसान धंधा है । किसी भी साधारण स्वस्थ सा दिखने वाले व्यक्ती को सिर्फ माथे पर साफानुमा कपडा बांधने और धोती कुर्ता पहनते ही जेसे भीख मांगने का लाईसेंस मिल जाता है । अब कोई भीखारी हरे रंग के वस्त्रों का प्रयोग करे या केसरिया रंग का […]

[Read more →]

Tags: ····

नए साल के नए फन्डे

January 5th, 2008 · No Comments · उलझन, हास्य

फिर से नया साल आ गया है ! सभी लोगो अपने अपने नए टारगेट बनाते हैं, अपने आप से वादा करते हैं कि में इस साल ये करुंगा ये नहीं करुंगा। पर शायद ही उनमें से कुछ लोग अपने प्लान के हिसाब से पुरे साल चल पाते होंगे । इन्सान है ना कुछ भी चीज […]

[Read more →]

Tags: ·····