Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 4

Entries Tagged as 'राजसमन्द जिला'

खबर का असर

February 6th, 2011 · No Comments · राजसमन्द जिला

ए॓सा मुझे पहले भी कई दफा महसूस हो चुका है कि जो चीज के बारे में मै सोच रहा होता हूं या अपने विचार किसी और से व्यक्त करता हूं कुछ ही समय में वह काम मुझे होता दिखाई देता हैं ! फिर लगता है कि काश कुछ और भी सोचा होता तो वह लालसा […]

[Read more →]

Tags: ···

राजसमंद का नौ चोकी सन 1910 में कैसा दिखता था !

November 13th, 2010 · 5 Comments · प्रमुख दर्शनीय स्थल, राजसमन्द जिला

राजसमंद का नौ चोकी सन 1910 मे कैसा रहा होगा ! अब तो नौ चोकी पाल पर गार्डन वगैरह बन चुका है और नगरपालिका वाले काफी अच्छा डेवलप भी कर रहे हैं ! पर मेरे एक अभिन्न मित्र नें मुझे यह फोटो का लिन्क भेजा है और इसलिये यह फोटो यहां भी प्रेषित है ! […]

[Read more →]

Tags: ···

बरसात के मौसम से पहले R.S.E.B. का रेगुलर मेन्टीनेंस चैक आवश्यक

July 7th, 2010 · No Comments · तकनिकी, राजसमन्द जिला

वर्षा का मौसम चालू हो चुका है और रोज कोई ना कोई खबर यह आ रही है कि मवेशी विधुत पोल के करंट के कारण मौत का ग्रास बने !, कभी खेतों में तार गिरने से किसान मर रहे हैं तो, कहीं पर मकानों के एकदम नजदीक से तार गुजर रहे हैं ! कहीं पर […]

[Read more →]

Tags: ··

धोईन्दा बस स्टेंड और काकंरोली बस स्टेंड

July 1st, 2010 · 3 Comments · उलझन, राजसमन्द जिला

काकंरोली के विकास का एक प्रमुख मुद्दा काफी सालों से बस स्टेंड रहा था ! अब वो वक्त आ गया है जब मुख्य बस स्टेंड धोईन्दा जा रहा है ! पर कई लोगों को प्रशासन के इस कार्य पर भारी आपत्ति है ! सभी के अलग अलग मत है ! धोईन्दा बस स्टेंड को बने […]

[Read more →]

Tags: ·····

झील भरवा री प्रार्थना

May 18th, 2010 · 2 Comments · राजसमन्द जिला, शख्सियत, हास्य

राजसमन्द झील जिसका की जलस्तर दिन पर दिन कम होता जा रहा है ! इस व्यथा को शब्दो में पिरोया है यहां के ही एक शख्स नें  ! राजसमंद के एक बहुत ही ख्यात युवा कवि सुनिल जी “सुनिल” नें अपनी बहुत ही उम्दा रचना भेजी है ! जो इस प्रकार है ! झील भरवा री […]

[Read more →]

Tags: ······