Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 4

Entries Tagged as 'राजसमन्द जिला'

राटासेन माताजी का मंदिर

February 10th, 2009 · 1 Comment · प्रमुख दर्शनीय स्थल, राजसमन्द जिला

राजसमन्द से सौ किलोमीटर की परिधी में हमने अब तक कोई भी घुमने लायक स्थान नहीं छोडा । मोटरसाईकिल उठाई, एक दो दोस्तों को फोन घुमाया वे भी तैयार और हम भी । थोडा बहुत नाश्ता पानी साथ लिया और ये निकल चले हम घुमने । छट्टी के दिन अक्सर एसा ही रूटीन रहता था […]

[Read more →]

Tags: ····

राजसमन्द में भी बी. एस. एन. एल का ब्राडबेन्ड शुरु

July 24th, 2008 · 2 Comments · तकनिकी, राजसमन्द जिला

बी. एस. एन. एल ने अभी कुछ रोज पहले भी हमारे जिले राजसमन्द में ब्राडबेन्ड की सेवा शुरु की है । इसके बाद तो हर उपभोक्ता के यहां नेट की स्पीड काफी अच्छी हो गई है । कुछ भी डाटा डाउनलोड करना हो तो बस मिनटों में हो जाता है । 1.5 MBPS की नेट […]

[Read more →]

Tags: ····

चारभुजा गढ़बोर में जलझुलनी एकादशी का उत्सव

July 10th, 2008 · 46 Comments · उत्सव एवं त्योहार, राजसमन्द जिला

चारभुजा गढ़बोर का मन्दिर अपने आप में बहुत ही प्रसिद्ध मंदिर है और मेवाड के चार धाम में से एक माना जाता है । यहां की जलझुलनी एकादशी बहुत ही प्रसिद्ध है । महाराष्ट्र, गुजराज व राजस्थान के कई स्थानों से लोग इस दिन यहां दर्शनों का लाभ लेने हेतू यहां आते हैं । राजसमंद […]

[Read more →]

Tags: ·····

राजसमन्द के कुछ विडियो

May 18th, 2008 · 3 Comments · तकनिकी, नई खबरें, प्रमुख दर्शनीय स्थल, राजसमन्द जिला

काफी लोग हमारे राजसमन्द जिले के कुछ फोटो तो कुछ लोग विडीयो फुटेज वगेरह देखना चाहते हैं, जो कि आसानी से हर कहीं मिलते नहीं हैं । लिजीये कुछ राजसमन्द जिले के नाथद्वारा या राजसमन्द झील के संबंधित विडीयो देखिये, जो कि अब यू ट्युब पर उपलब्ध हैं | ये विडीयो राजसमन्द झील की नौ […]

[Read more →]

Tags: ····

द्धारिकाप्रसाद जी सांचिहर

April 16th, 2008 · No Comments · राजसमन्द जिला, शख्सियत

द्धारिकाप्रसाद जी सांचिहर का नाम भी राजसमन्द से जुडा हुआ है । वे एक विख्यात शख्सियत हैं । वैसे तो पेशे से वे गुजरात की एक युनिवर्सिटी में लेक्चरार है, पर उनकी रुचि साहित्यिक कार्यो में भी काफी हैं । सब कुछ, यहीं कांकरोली राजसमन्द में ही तो है उनका शायद इसलिए ही वे इस […]

[Read more →]

Tags: ········