Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 4

Entries Tagged as 'इतिहास के पन्नो से'

हल्दीघाटीः झाला का बलिदान ‍| श्याम नारायण पान्डेय

July 30th, 2011 · 4 Comments · इतिहास के पन्नो से

झाला का बलिदान ये कविता रचि है वीर रस के अमर कवि श्याम नारायण पान्डेय ने | झाला जो कि राणा प्रताप की ही सेना का एक बहुत बहादुर सिपाही था | उसके अमर बलिदान की कहानी है यह | झाला राणा प्रताप के साथ ही युद्ध मे शामिल था और वह भी बडा ही […]

[Read more →]

Tags: ·····

भक्त शिरोमणि मीराबाई के प्रसिद्ध भजन

July 30th, 2011 · 8 Comments · इतिहास के पन्नो से

मीराबाई का जन्म सोलहवीं शताब्दी में हुआ और वे भगवान कृष्ण की बहुत बडी भक्त थीं | बचपन से ही मीरा का रुझान सिर्फ और सिर्फ प्रभु भक्ती में ही था | उनका विवाह मेवाड के महाराज राणा सांगा के दूसरे पुत्र भोजराज से हुआ था | भोजराज कम उम्र में ही एक युद्ध के […]

[Read more →]

Tags: ·········

हल्दीघाटीः युद्ध के लिये प्रयाण ‍- लेखक श्याम नारायण पान्डेय

July 28th, 2011 · 4 Comments · इतिहास के पन्नो से

लेखक व कवि श्याम नारायण पान्डेय ने एक और रचना लिखी थी जो भी राणा प्रताप के जीवन चरित्र पर आधारित थी, इस रचना का नाम है हल्दीघाटीः युद्ध के लिये प्रयाण | शब्दों की जादूगरी यहां बहुत ही देखने लायक है, कोई कवि इस तरह की रचना आज शायद ही लिख पाये | पान्डेय […]

[Read more →]

Tags: ·····

राणा प्रताप की तलवार – श्याम नारायण पाण्डेय

July 28th, 2011 · 4 Comments · इतिहास के पन्नो से

हल्दीघाटी का युद्ध अब एक इतिहास बन चुका है पर इसे हमेशा ही याद किया जाता रहा है और भविष्य में भी लोग इस आजादी की प्रथम लडाई के रुप में याद करते रहेंगे | अकबर की पुरे भारत पर विजय की सोच वाली महत्वाकांक्षा और महाराणा प्रताप का कभी ना झुकने वाला स्वाभिमान, दोनों […]

[Read more →]

Tags: ···

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती

June 25th, 2009 · 14 Comments · इतिहास के पन्नो से

कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती : लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती । नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है, चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है । मन का विश्वास रगों में साहस भरता है, चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता […]

[Read more →]

Tags: ·········