Rajsamand District, Rajasthan

राजसमन्द जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल, ए॓तिहासिक पर्यटन स्थल, मंदिर, किले, मुख्य त्योहार एवं व्यवसाय आदि की विस्तृत जानकारी, साथ ही हर घटना को देखने का लेखक का अपना व्यक्तीगत व्यंग्यात्मक नजरिया आज की इस तिरछी दुनिया के सन्दर्भ में…

Rajsamand District, Rajasthan header image 2

चुनाव का मौसम फिर से

May 6th, 2009 · 1 टिप्पणी · उलझन, नई खबरें, राजसमन्द जिला

लिजीये फिर से चुनाव आ गए हैं । राजसमंद में भी बडी दो मुख्य पार्टीयों नें अपने अपने प्रत्याशी मैदान में उतारें हैं । राजसमंद का भी अब चुनाव की नजर से एरिया काफी बडा हो चुका हैं, और अब इस कारण ही दुसरे तरफ के मतदाता भी अब यहां से खडे होने वाले प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे । पहले हैं जनता पार्टि से रासासिंह रावत और दूसरे कांग्रेस से गोपालसिंह शेखावत । अब देखना हैं कि जीतता कौन है ? यहां के लोगो नें दोनो ही बडी पार्टियों के इन प्रत्याशियों के नाम तक नहीं सुने थे अब तक तो पर देखना है कि विजयश्री किसके माथे पर तिलक करती हे ।

देखने वाली बात यह है कि जहां रासासिंह रावत पुराने व जमे हुए नेता हैं तो दुसरी तरफ गोपालसिंह जी नए चेहरे हैं । चुनाव सही तरीके से सम्पन्न हो एसा सारे इंतजामात कर लिए गए हें । हर आदमी खाता तो है अपने घर की अपने हाथ से कमायी हुई रोटी पर, एक बात है कुछ भी हो इस बार का चुनाव होगा बडा ही मजेदार, परिणाम चौकाने वाले होंगे । पर अपनी तो एक अपील है कि हर व्यक्ती को जात पांत, समाज से उपर उठकर अपनी नजर में समझदार नेता को चुनते हुए वोट जरुर करना चाहिए । चाहे गर्मी तेज हो, वोट देने के लिए लाइन में लगना पडे, या कुछ और भी हो पर वोट करना ही है । एक एक वोट का भी महत्व है । याद है ना हमारे यहां के कद्दावर नैता भी एक बार एक वोट से हारे थे ।

टैग्सः ·····

एक टिप्पणी ↓

  • सागर नाहर

    रासासिंह तो अजमेर से खड़े हुआ करते थे ना? इस बार राजसमन्द से कैसे? क्या इस बार हारने का डर सताने लगा था?
    :)

अपनी टिप्पणी करें, आपकी टिप्पणीयां हमारे लिये बहुत ही महत्वपूर्ण हैं, आप हिन्दी या अंग्रेजी में अपनी टिप्पणी दे सकते हैं, साथ ही आप इस वेबसाईट पर और क्या क्या देखना चाहेंगे, अपने सुझाव हमें दें, धन्यवाद